“AAM ADAMI PARTY” WILL HAVE IMPORTANCE AGAIN ; “आम आदमी पार्टी ” के लिये लोगो के मन मे अभी भी जगह है

तेजी से भारतीय राज्नीति मे अचानक से उभरने वाली “आम आदमी” पार्टी के लिये अभी भी लोग सोचते विचारते है और इसे पसन्द करते है / लोग चाहते है कि यह पार्टी अपना वजूद कायम रखे और अपनी इसी ideology पर कायम रहे और लगातार इसी पर काम करती रहे जो उसके agenda मे है /

मोदी की कोई भी लहर हो या न हो , मोदी की सरकार कर रही हो या न कर रही हो , लेकिन अभी भी लोगो का भरोसा मोदी की सरकार पर पूरा का पूरा नही है /

भारत की 95 % प्रतिशत आम जनता अन्य सैकड़ो समस्याओ के भीतर से मुख्य रूप से ऊभर कर प्रत्यक्ष रूप मे आने वाली तीन बातो को सबसे ज्यादा  भुगतती है /

[१] करप्शन यानी  हर स्तर पर हो रहा  भ्रष्टाचार ; राजनीतिक और सरकारी स्तर तथा अन्य

[२] सरकार की अकर्मण्यता ; सरकारो का कोई काम न करना

[३] कानून और व्यवस्था की स्तिथि यथा थाना पुलिस और न्यायालयो मे न्याय पाने के लिये जद्दो – जहद

करीब करीब सभी राज्यो मे यही तीन समस्या नागरिको को परेशान किये हुये है /  इनका कोई हल भी नही निकल पा रहा है इसलिये लोग इस तरह की व्यवस्था से परेशान हो रहे है और लोगो को यही नही सूझ रहा है कि वे करे तो क्या करे ? लोगो को कोई सुनने वाला नही है /

देश के लोग आम आदमी पार्टी की कार्य शैली की सराहना करते है और जिस तरह से पार्टी के नेता अरविन्द केजरीवाल की कार्य शैली को अब ठीक समझने लगे है , इसलिये लोगो को लगता है कि आम आदमी पार्टी की काम करने की नीयत ईमान दार है और   ठीक है और यह पार्टी देश के लिये    बहुत कुछ करना चाहते है और इनको भी मौका देना चाहिये /लोग अब यह भी ठीक और सही  समझने लगे है कि आम आदमी पार्टी जिस “जन लोक पाल बिल” को लागू करना चाहती है , वही सही मालूम होता है /

मेरा आम आदमी पार्टी से यही सन्देश देना  है कि इस पार्टी को अब दुगने जोश के साथ कार्य क्षेत्र मे डट जाना चाहिये / सम्भल समभल कर दूरगामी परिणामो पर विचार करके कदम उठाये /

मोदी सरकार भ्रष्टाचार को हटाने और good Governance  की भले ही बात करे लेकिन ये कुछ नही कर पायेन्गे , स्तिथि जस की तस रहेगी यह तो तय है / क्योकि इसके पीछे आर०एस०एस० है जिसके हाथ मे लगाम है /

देश के लोगो  को एक बेहतर ईमान दार  विकल्प चाहिये, इसलिये लोग “आम आदमी पार्टी” की ओर  आशा जनक रूप से  देख रहे है /

मै तो यही कहून्गा कि इस पार्टी के नेताओ को अपनी पिछली गलतियो से सबक लेकर फिर से कमर कस कर कर्म क्षेत्र मे जुट जाना चाहैये / भविष्य मे देश की राज नीति एक दिन आप ही तय करेन्गे क्योन्कि कान्ग्रेस तो अब धीरे धीरे अस्ताचल की ओर जा रही है /

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s