IS IT POSSIBLE THAT JAYA LALITA AND LALU PRASAD YADAV WILL AGAIN BE BEHIND THE BAR ? क्या ऐसा सम्भव होगा कि भविष्य मे जय ललिता और लालू प्रसाद यादव दुबारा जेल की हवा खायेन्गे ?

क्या ऐसा समभव होगा कि अदालती जमानत पर छूटे हुये जय ललिता और लालू प्रसाद यादव दुबारा जेल की हवा खायेन्गे ?

बात बड़ी विचित्र सी है ? पिछले कुछ अदालती निर्णयों का आनकलन करे तो यह सही साबित हो सकता है ?

याद करिये कुछ साल पहले चन्डीगढ की रहने वाली उस लड़्की का केस जिसमे तत्कालीन डी०आई०जी० राठौर को डेढ साल की सजा सुनाई गयी थी , लेकिन वह छह माह बामुश्किल स्जा काट कर वापस आ गये कि उनको दिल की बीमारी है /

बाद मे क्या हुआ और अदालत की क्या कारयवाही हुयी किसी को पता नही है ? मीडिया मे भी सांप सून्घ गया है और ये सभी हाइबेरनेशन की अवस्था मे आ गये / किसी ने राठौर को क्या आगे हुआ ? जानने और समझने की कोशीश भी नही की गयी / मीशिया ने रायता तो उस समय खूब फैलाया लेकिन यह फैला हुआ रायता कैसे समेटा जाय , यह शाय्द सब मीडिया के लोग भूल गये /

बात करते है जय ललिता और लालू प्रसाद यादव का /

राठौर ने अदालत मे यह सिध्ध कर दिया कि वे दिल की अति गम्भीर बीमारी से परेशान है इसलिये उनको कैद मे न रखा जाय /

अब यही जय ललिता और लालू प्रसाद यादव भी करेन्गे /

अपने देश मे यह बहुत बड़ी सुविधा है कि खूब लूटॊ और खूब बेइमानी करके अनाप शनाप  पैसा पैदा करिये और उसे बाहर भेज दीजिये या यही कही खपा दीजिये और जितनी ज्यादा से ज्यादा हो सके टैक्स की चोरी करिये और सरकार के जितना ज्यादा  चूना लगाकर अपना घर भर ले और ज्यादा  से  ज्यादा  अपनी राज्नीतिक दूकान की बदौलत    जितना हो सके पैसा पी जाओ और डकार लेने का नाम तक न लो /

पकड़े जाइये तो तोहमत अपने विरोधी दलो पर लगा दीजिये और अपने को दूध का धुला बताइये और हराम की   एक कौड़ी भी आपके के लिये पाप के समान है यह बताइये / अपने ऊपर आ रहे हमलो का ठीकरा दूसरे के सर पर फोड़ दीजिये /

कानून भी आप्का कुछ नही बिगाड़ पायेगा / पैसा पी जाइये जितना अधिक से अधिक हो सके / एक तो पकडे नही जायेन्गे इसकी सम्भावना 99.999%  प्रतिशत होती है अगर पकड़े भी गये तो इस जनम मे आप्को कुछ नही होने वाला है /

अगर आप पकड़ भी लिये गये तो अपने को किसी गम्भीर बीमारी होने का रोगी बता दें /

जैसा कि राठौर ने बताया कि वे गम्भीर किस्म की हृदय रोग से पीडित है और अगर वे जेल गये तो फिर मानसिक बीमार होकर उनका जीवन ही खात्रे मे पड़ जायेगा /

जैसा जय ललिता ने बताया कि उनको गम्भीर किस्म का रोग है

अब इसी तरह लालू प्रसाद भी बतायेन्गे   कि उनको गम्भीर किस्म की हृदय रोग की बीमारी है जैसा कि उन्होने अभी अभी मुम्बई मे जाकर  अपने दिल का आप्रेशन क्रा लिया है /

अम्मा जेल मे थी तो सबने देखा कि क्या हुआ ?

लालू जेल मे गये तो क्या हुआ ? जेल से छूटते ही लालू ने बाहर आकर कहा कि मोदी की वजह से वे जेल गये थे /

ऐसे नेताओ के  उनके अन्ध समर्थक क्या कानून है और किस बात के लिये जेल गये यह सब नही समझते है उनको तो लगता है कि उनके नेता के साथ दूसरे नेता  ्ने  जेल भिजवा दिया जैसा कि उनके इलाके के थाना पुलिस वाले करते है /

मुझे नही लगता कि फिलहाल बहुत जल्दी ये नेता जेल के सीकचो के अन्दर होन्गे /

हा, यह भी एक सत्य है कि हमारे जैसे सामान्य आदमी के ऊपर अगर ऐसी कोई सजा होती तो शायद ही जेल की सजा पूरी किये बगैर बाहर की हवा सेवन करने का मौका मिलता /

देर से अगर न्याय मिलता है तो यह किसी अन्याय से भी कम नही कहा जा सकता है /  

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s